azlyrics.biz
a b c d e f g h i j k l m n o p q r s t u v w x y z 0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 #

armaan malik – barfani lyrics

Loading...

ये बर्फानी रातें
पिघल जाने दो
पिघल जाने दो

ये बर्फानी रातें

पिघल जाने दो
पिघल जाने दो

शीत लहर सी है साँसों में
आंच मिले तेरी बाँहों में
शीत लहर सी है साँसों में
आंच मिले तेरी बाँहों में
आज तो हमें जल जाने दो
जल जाने दो
जल जाने दो
जल जाने दो
ये बर्फानी रातें

पिघल जाने दो
पिघल जाने दो

जी उठूं मैं ज़रा

तेरे होंठों से हरारत जो मिले
जो ओढ़ लूं मैं बदन तेरा

भीगे मन को थोड़ी राहत तो मिले
मैं बरखा की इक बूँद हूँ
तपती ज़मीं को जो चूम लूं
मैं बरखा की इक बूँद हूँ
तपती ज़मीं को जो चूम लूं
भाप में मुझे ढल जाने दो

जल जाने दो
जल जाने दो
जल जाने दो

सुलगे दिल तो मिले
कपकपाती धडकनों को गर्मियां
जज़्ब हो इस तरह से हम
जिस्म भी ना हो हमारे दरमियाँ

इन होंठों पे जो नमी
इक अरसे से है जमी
इन होंठों पे जो नमी
इक अरसे से है जमी
अपने होठों में घुल जाने दो
जल जाने दो
जल जाने दो
जल जाने दो
ये बर्फानी रातें
पिघल जाने दो
पिघल जाने दो